Tag:Kuch Purani Yaadon Ke Nashe Meiin

कंप्यूटर से दोस्ती की एक सच्ची कहानी

हम आपके हैं कौन फिल्म का एक सीन है, जब निशा(माधुरी दीक्षित) पहली बार अपनी बहन के ससुराल आती है तो रीटा(सहिला चड्डा) उससे...

रिवाइंड – एक ऐड्वर्टाइज़्मन्ट जिसनें दिलों पर तबाही मचा रखी है

कुछ समय पहले टीवी में न्यूज़ चैनल में इलेक्शन को लेकर लोग अटके पड़े थे, तो कुछ लोग गैर जरूरी बहस में और इन...

कैसे भूलोगे मेरा नाम – यूफोरिया, एक ऐसा बैंड जो कभी धुम मचाता था

पिछले दो दिनों से दिल्ली का मौसम खूब सुहाना हो गया है. बारिश हो रही है और सुबह और शाम ठंडी हवाएं चल रही...

घड़ी तो नहीं रही, पर वो समय भी नहीं रहा लेकिन हम तो वही हैं..

इतवार की सुबह है, पता नहीं कहाँ से अचानक पुरानी बातें याद आ रही हैं. सुबह की शुरुआत रफ़ी साहब के उसी गाने से...

इवनिंग डायरी : किस्से-कहानियाँ और एक फिल्म की कुछ बातें

आज एक फिल्म देखी..तमाशा. फिल्म तो बेहतरीन है...इस साल की सबसे बेहतरीन फिल्मों में से एक. तमाशा एक ऐसे इंसान की कहानी है जो...

वो कमरा याद आता है.. – मेरा पुराना कमरा और एक कविता

जावेद साहब की एक कविता है "वो कमरा याद आता है".उस कविता को जब कभी पढ़ता हूँ, एक टीस सी उठती है मन में.दो...

जाने वो कौन सा देश जहाँ तुम चले गये – जगजीत की याद में

कुछ पुरानी यादें - जगजीत सिंह और मैं.. सुबह कुछ काम से मैं बाहर निकला था.दो तीन घंटे में काम खत्म कर वापस आया.जैसे ही...

Latest news

भाभी – इस्मत चुग़ताई

  भाभी ब्याह कर आई थी तो मुश्किल से पंद्रह बरस की होगी। बढवार भी तो पूरी नहीं हुई थी।...

जडें – इस्मत चुग़ताई

  सबके चेहरे उड़े हुए थे। घर में खाना तक न पका था। आज छठा दिन था। बच्चे स्कूल छोड़े,...

चौथी का जोडा – इस्मत चुग़ताई

  सहदरी के चौके पर आज फिर साफ - सुथरी जाजम बिछी थी। टूटी - फूटी खपरैल की झिर्रियों में...

Must read

लिखना जैसे मेरे जीने का सहारा है – निर्मल वर्मा के संकलित पत्र

पिछले महीने पटना में एक किताब खरीदी थी -...

भगतसिंह के पत्र – हमारे इतिहास के धरोहर

अपने ब्लॉग पर मैंने पहले भी भगतसिंह के कुछ...