Tag:Patna

1975 के पटना बाढ़ पर लिखी फणीश्वरनाथ रेणु की दिलचस्प रिपोर्टिंग

इन दिनों दिल्ली में बारिश खूब हो रही है, जम कर बादल बरस रहे हैं. ऐसे में अपने शहर पटना की याद आना लाजमी...

इवनिंग डायरी : किस्से-कहानियाँ और एक फिल्म की कुछ बातें

आज एक फिल्म देखी..तमाशा. फिल्म तो बेहतरीन है...इस साल की सबसे बेहतरीन फिल्मों में से एक. तमाशा एक ऐसे इंसान की कहानी है जो...

गांधी संग्रहालय पटना में एक दिन – एक रिपोर्ट

बड़े दिनों से दिल कर रहा था लेकिन कभी मौका नहीं मिल पा रहा था, इस बार फिर से अपने उसी दोस्त के साथ...

पन्द्रह अगस्त और कुछ यादें, बातें मेरी – नास्टैल्जिया

पंद्रह अगस्त...जाने क्या क्या यादें जुड़ी हैं इस एक दिन से. ये दिन सच में ख़ास होता है, मन का मौसम चाहे कैसा भी...

जाने वो कौन सा देश जहाँ तुम चले गये – जगजीत की याद में

कुछ पुरानी यादें - जगजीत सिंह और मैं.. सुबह कुछ काम से मैं बाहर निकला था.दो तीन घंटे में काम खत्म कर वापस आया.जैसे ही...

Latest news

भाभी – इस्मत चुग़ताई

  भाभी ब्याह कर आई थी तो मुश्किल से पंद्रह बरस की होगी। बढवार भी तो पूरी नहीं हुई थी।...

जडें – इस्मत चुग़ताई

  सबके चेहरे उड़े हुए थे। घर में खाना तक न पका था। आज छठा दिन था। बच्चे स्कूल छोड़े,...

चौथी का जोडा – इस्मत चुग़ताई

  सहदरी के चौके पर आज फिर साफ - सुथरी जाजम बिछी थी। टूटी - फूटी खपरैल की झिर्रियों में...

Must read

मारे गये गुलफाम – फणीश्वरनाथ रेणु

हिरामन गाड़ीवान की पीठ में गुदगुदी लगती है... पिछले बीस...

ठंडा गोश्त – सआदत हसन मंटो

ईश्वरसिंह ज्यों ही होटल के कमरे में दांखिला हुआ,...